Alig News

For The People

ठंड की सुरुआत होते ही पशु चुराने वाले बदमाशों का आतंक जारी, पुलिस पड़ रहे भारी


एंकर–ठंड की सुरुआत हो चुकी है , तो वहीं दूसरी ओर पशु चराने वाले बदमाश भी देहात क्षेत्रों में अपना डेरा जमाने के लिए निकल चुके है आँख बचते ही पशुओं को चुराने का खेल सुरु हो चुका है ,लेकिन अगर बात पुलिस की मुस्तैदी की कही जाए तो हर रोज होरही पशु चोरी की घटनाओं से पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान उठने लगे है।

वीओ—अलीगढ़ के अकराबाद थाना क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर पशु लुटेरों का आतंक जारी है ,बदमाशों के द्वारा तमंचे के बल पर फायरिंग करते हुए चार पशुओं को लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है, फायरिंग के दौरान एक युवती के पैर में गोली भी लग गई वहीं दो व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार हेतु मेडिकल कॉलेज भेजा है। थाना अकराबाद के गांव जिरौलीहीरासिह निवासी रामपाल अपने घर पर सो रहा था। इसी दौरान मैक्स लोडर सवार आधा दर्जन से अधिक बदमाशों में उसकी कनपटी पर तमंचा तान कर भैंस लूट रहे थे जहां रामपाल ने विरोध किया तो बदमाशों ने उसके सर पर तमंचे की बट से प्रहार कर दिया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया जहां उसकी पुत्री निशा की आंख खुल गई और वह अपने पिता के पास पहुंच गई युवती ने पिता को घायल देखकर शोर कर दिया शोर की आवाज सुन गांव के लोग मौके पर दौड़े इसी दौरान बदमाशों ने फायरिंग करते हुए भैंस को मैक्स लोडर में लादकर फरार हो गए फायरिंग के दौरान निशा के पैर में गोली लग गई जिससे वह घायल हो गई उक्त घटना की जानकारी ग्रामीणों में पुलिस को दी सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार हेतु मेडिकल कॉलेज भेज दिया। वही गांव मिश्रीपुर निवासी राघवेंद्र पुत्र बृजेंद्र सिंह अपने घेर में सो रहा था इसी दौरान मैक्स लोडर सवार आधा दर्जन से अधिक बदमाश उसके घेर में घुस आए। बदमाशों ने उसकी कनपटी पर तमंचा तान कर घेर में बंधी भैंस को जबरन मैक्स लोडर में लादकर भागने लगे जिस का विरोध करने पर बदमाशों ने पत्थरबाजी करते हुए फायरिंग कर दी जिससे राघवेंद्र घायल हो गया। इससे पूर्व गांव जल्लूपुर सीहोर निवासी लाल सिंह पुत्र धनीराम की घेर में बंधी दो भैंसों को तमंचे के बल पर मैक्स सवार आधा दर्जन से अधिक बदमाशों ने लूट कर फरार हो गए जहां पीड़ितों ने उक्त घटना की सूचना पुलिस को दी। जिरौलीहीरासिह में 2 दिन पूर्व एक मजदूर की भैंस को अज्ञात पशु चोर चुरा लेंगे थे। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में पशु लुटेरों का आतंक रोजाना बढ़ता जा रहा है किसानों को अपने पशुओं की स्वयं रक्षा करना भी भारी पड़ रहा है। पुलिस पशु लुटेरों के आगे बोना नजर आ रही है पशु लुटेरे क्षेत्र में रोजाना लूट की घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं जहां पुलिस पशु लुटेरों को पकड़ने में नाकाम नजर आ रही है।

You may have missed

Instagram202
YouTube20
Facebook472
Twitter674
LinkedIn820
Share