September 23, 2021

ALIG NEWS

For The People

लॉकडाउन से बेरोजगार इंजीनियर की योजना को लोकल फॉर वोकल ने दी रफ्तार Aligarh news

अलीगढ़ [लोकेश शर्मा]।  विकास के मूलमंत्र  ‘लोकल फॉर वोकल’ से आत्मनिर्भरता की नई परिभाषा गढ़ी जा रही है। पहले प्राइवेट कंपनी की फूड प्रोसेसिंग यूनिट में काम करने वाले प्रकाशवीर ने अब अपनी टोमेटो प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित की है। यह मंडल की पहली यूनिट है, जिसमें टोमेटो कैचप, प्यूरी और पेस्ट तैयार किया जाएगा। प्रोडक्ट की सप्लाई देश के अलावा विदेशों में भी होगी। यूनिट लगने से न सिर्फ स्थानीय किसानों को टमाटर बिक्री का उचित जरिया मिलेगा, रोजगार के भी उपलब्ध होंगे।
ऐसा टमाटर की अच्छी पैदावार को देखकर किया गया है। जिले में टमाटर का रकबा 1700 हेक्टेयर है। लॉकडाउन के दौरान उचित कीमत न मिलने से टमाटर सड़कों पर फेंका गया। कीमत मात्र दस रुपये किलो थी। यह देख रामघाट रोड स्थित अवंतीबाई सांई विहार निवासी इंजीनियर प्रकाशवीर ने टोमेटो प्रोसेसिंग यूनिट की योजना बना डाली। वे अलीगढ़ की ही एक फूड प्रोसेसिंग यूनिट में काम करते थे। लॉकडाउन में बेरोजगार होने पर मशीनों की मरम्मत कर घर का खर्च निकाला। इसी बीच सरकार की योजना ने खुद के रोजगार की योजना को रफ्तार दे दी। जिला उद्यान विभाग में रजिस्ट्रेशन कराने के बाद सांई विहार में ही खुद की जमीन पर 15 लाख रुपये से यूनिट स्थापित करा दी। इसमें सरकार की लोकल फॉर वोकल योजना बड़ी मददगार साबित हुई। प्रकाशवीर बताते हैं कि कुछ दिक्कतें आईं तो उन्हेंं परिचितों ने दूर कर दिया। नवंबर में टमाटर का सीजन शुरू होते ही यूनिट में उत्पादन भी शुरू कर दिया जाएगा।

30 लोगों को रोजगार, देशभर सप्लाई  
यूनिट में 30 लोगों को रोजगार मिलेगा। लेकिन, उत्पादन शुरू होते ही यह संख्या बढ़ जाएगी। दूसरे जिलों में सप्लाई आदि का काम अन्य लोगों को मिलेगा। यहां से टोमेटो कैचप, प्यूरी और पेस्ट को निर्यात करने की भी योजना है। प्रकाशवीर बताते हैं कि प्रोडक्ट तैयार करने के लिए स्थानीय किसानों से टमाटर खरीदे जाएंगे। इसके लिए किसानों से संपर्क किया जा रहा है।

किसानों को लाभ
खाद्य प्रसंस्करण प्रशिक्षण केंद्र के प्रभारी बलवीर सिंह बताते हैं कि यूनिट लगने से अलीगढ़ व आसपास के जिलों के हजारों किसानों को लाभ मिलेगा। किसान अपना उत्पाद सीधे बेच सकेंगे। यूनिट की क्षमता प्रतिदिन दो टन उत्पाद तैयार करने की है, इसके लिए प्रतिदिन पांच टन टमाटर चाहिए। यह मंडल का पहला प्लांट होगा जहां टमाटर का प्रोसेस कर उससे उत्पाद तैयार किए जा सकेंगे। सरकार इसके लिए 50 फीसद अनुदान भी दे रही है।

आलू, अचार की हैं यूनिट
अलीगढ़ में आलू प्रोसेसिंग की एक बड़ी यूनिट है। बाकी अचार, मसाले, नमकीन की छोटी चार यूनिट संचालित हैं। इनमें दो यूनिट मित्रनगर और दो वैष्णोधाम कॉलोनी में हैं।

Instagram202
YouTube20
Facebook472
Twitter674
LinkedIn820
Share